Sunday, May 5, 2024
Home राज्य  पूर्व मंत्री और विधायक बच्चू कडू को मिली थी 14 दिन की...

 पूर्व मंत्री और विधायक बच्चू कडू को मिली थी 14 दिन की न्यायिक हिरासत और कुछ ही देर में मिली जमानत

मुंबई- महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री और विधायक बच्चू कडू  को गिरगांव की अदालत ने बुधवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। 2018 में राजनीतिक विरोध के दौरान बाधा डालने के मामले में गैर जमानती वारंट जारी होने के बाद वह अदालत में पेश हुए।

चुनावी घोषणापत्र में सूचनाएं छिपाने के लिए फरवरी, 2022 में एक स्थानीय अदालत ने महाराष्ट्र के तत्कालीन स्कूली शिक्षा राज्यमंत्री बच्चू कडू को दो महीने के सश्रम कारावास की सजा सुनाई थी। कोर्ट के सिविल जज एलसी वाडेकर ने कडू को जन प्रतिनिधित्व अधिनियम के तहत किए गए अपराध के लिए सजा सुनाई थी।

प्रहार जनशक्ति पार्टी के नेता कडू को सजा सुनाए जाने के बाद ही कोर्ट से जमानत मिल गई है। जेल की सजा के अलावा कोर्ट ने उन पर 25 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है। इस मामले में भाजपा नेता गोपाल तिरामरे ने कडू पर 2014 के विधानसभा चुनाव के लिए शपथ पत्र देते समय मुंबई में 43.46 लाख रुपये का फ्लैट होने की जानकारी छिपाने का आरोप लगाया है। हालांकि, इन आरोपों से इनकार करते हुए कडू ने अदालत में कहा था कि उन्होंने कर्ज नहीं चुका पाने के कारण पहले ही फ्लैट बेच दिया था।

दिसंबर, 2020 में केंद्रीय राज्य मंत्री और भाजपा नेता रावसाहेब दानवे ने कहा था कि किसानों के आंदोलन के पीछे चीन और पाकिस्तान का हाथ है। उन्होंने यह भी कहा कि यह किसानों का आंदोलन नहीं है, किसानों को भड़काया जा रहा है। बच्चू कडू ने उनके बयान पर गुस्सा जाहिर किया है। कडू ने कहा कि पिछली बार जब उन्होंने ऐसा बयान दिया था, तो हमने उनके घर का घेराव किया था। अब लग रहा है कि हमें उनके घर में जाकर उन्‍हें पीटना होगा।

और ऐसे मिली जमानत….

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे गुट के विधायक और पूर्व मंत्री बच्चू कडू को आज सुबह गिरगांव की अदालत ने झटका दिया. उन्हें राजनीतिक आंदोलन के सिलसिले में 14 दिनों की न्यायिक हिरासत की सजा सुनाई गई थी। कोर्ट के इस फैसले से राज्य की सियासत में हड़कंप मच गया है. कोर्ट के इस फैसले के बाद चर्चा थी कि बच्चू कडू को जेल जाना पड़ेगा. लेकिन बच्चू कडू ने कोर्ट में जमानत के लिए अर्जी दाखिल की थी. इस जमानत पर आज होगी सुनवाई या नहीं? ऐसी थी चर्चा। लेकिन आज जमानत अर्जी पर आखिरकार सुनवाई हुई। लंबी बहस के बाद आखिरकार कोर्ट ने बच्चू कडू को जमानत दे दी। अदालत ने बच्चू कडू को 15,000 के निजी मुचलके पर जमानत दे दी।

प्रधान न्यायालय द्वारा न्यायालय संख्या 54 में उल्लेख का निर्देश दिया गया था। इस बार जज राहुल रोकड़े ने बच्चू कडू की लीगल टीम को किनारे रखा.आपकी गलतियां हमारी टेंशन बढ़ा देती हैं. अंत में कोर्ट ने बच्चू कडू को जमानत दे दी। कोर्ट ने ऐलान किया कि इस मामले की अगली सुनवाई 21 सितंबर को होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

× How can I help you?