शेगांव संस्थान के ट्रस्टी शिवशंकर भाऊ पाटिल का निधन, कई दिनों से हालत थी नाजुक.

shivsankar patil

अकोला- श्री संत गजानन महाराज शेगांव संस्थान के ट्रस्टी कर्मयोगी शिवशंकर भाऊ पाटिल पिछले कुछ दिनों से मल्टी ऑर्गन फेल्योर से गंभीर हालत में थे। उन्होंने कहा था “मुझे किसी अस्पताल में न ले जाएं।” इस लिए उन्हें डॉक्टर्स की देखरेख में उनके आवास पर ही रखा गया था। शिवशंकरभाऊ का उनके आवास पर पूरे मेडिकल सेटअप के साथ कई दिनों से इलाज चल रहा था। आज उन्होंने आखरी सास ली बुधवार, 4 अगस्त को शाम 5 बजे उनका दुखद निधन हो गया. उनकी उम्र  ८१ वर्ष की थी। उनके परिवार में दो बेटे, तीन बेटियां, एक पत्नी और पोते-पोतियां हैं। महान कर्मयोगी को दिव्य हिन्दी न्यूज़ की पूरी टीम की और से भावपूर्ण श्रधांजलि

उनके निधन से भक्तों में गहरा सदमा पहुंचा है और उनके दर्शन के लिए भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी। राजनेताओं और समाजशास्त्रियों के साथ-साथ प्रशासन के अधिकारियों ने भी उनके घर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। शेगांव में कई व्यवसायियों ने अपनी प्रतिष्ठा को बंद कर उनहे खोने का शोक व्यक्त किया।

शिवशंकरभाऊ ने जीवन भर गजानना महाराज की सेवा की और लोगो की सेवा की उनके द्वरा लिए गए कार्य उलेखनिय है वे महाराष्ट्र के गौरव थे और सदेव रहेगे नम्र वंदन है उन्हें.

यह भी पढ़े- मौसम विभाग ने अकोला सहित विदर्भ के अन्य जिलों के लिए अगले पांच दिनों के लिए जिलेवार मौसम अलर्ट जारी किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here