Sunday, May 5, 2024

खाने का तेल हुआ सस्ता ! सरसों, रिफायंड समेत इन खाद्य तेलों के दाम गिरे, देखें लेटेस्ट रेट

oli

नई दिल्ली/मुंबई. पिछले एक सालों से खाने के तेलों (Edible Oil) के दाम आसमान पर है. हालांकि, अब आम लोगों को थोड़ी राहत मिली है, क्योंकि Edible Oil के दाम गिरने शुरू हो गए हैं. केन्द्र सरकार ने कहा कि पिछले एक महीने में खाद्य तेल की कीमतों में गिरावट शुरू हो गई है. कुछ मामलों में यह गिरावट करीब 20 फीसदी है. उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनकि वितरण मंत्रालय के एक बयान के अनुसार, भारत में खाद्य तेल की कीमतों (Edible Oil Price) में गिरावट का रुझान दिख रहा है. पिछले एक महीने से खाद्य तेल की कीमतें घट रही हैं. कुछ तेल की कीमतों में 20 प्रतिशत की गिरावट दर्ज हुई है.

देखे क्या है अभी के भाव

सरकार ने कहा कि 7 मई को पाम तेल (Palm Oil Price) की कीमत 142 रुपये प्रति किलोग्राम थी और अब यह 19 फीसदी की गिरावट के साथ 115 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई है.इसी तरह, सूरजमुखी तेल की कीमत 16 फीसदी गिरकर 157 प्रति किलोग्राम हो गई है, जो 5 मई को 188 रुपये प्रति किलोग्राम थी. सोया तेल की कीमत 20 मई को 162 रुपये प्रति किलोग्राम थी और अब मुंबई में यह घटकर 140 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई है.

सरसों तेल के दाम भी घटे
बयान में कहा गया, “सरसों के तेल (Mustard Oil Price) के मामले में, 16 मई, 2021 को कीमत 175 रुपये प्रति किलोग्राम थी. अब, यह लगभग 10 प्रतिशत की गिरावट के साथ घटकर 157 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई है.” मूंगफली तेल की कीमत जो 14 मई को 190 रुपये प्रति किलो थी, वह गिरकर 174 रुपये प्रति किलो हो गई है.वनस्पति की कीमत 2 मई को 154 रुपये प्रति किलोग्राम से आठ प्रतिशत घटकर 140 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई है.

भारत खाने के तेल का सबसे ज्यादा 70% आयात करता है

भारत को खाद्य तेल की अपनी जरूरत के बड़े हिस्से का आयात करना पड़ता है। इसकी वजह यह है कि खपत के मुकाबले देश में खाद्य तेलों का उत्पादन काफी कम होता है।

सरकार ने खाद्य तेल के आयात शुल्क मूल्य में कटौती की

17 जून को सरकार ने पाम तेल सहित खाद्य तेलों के आयात शुल्क मूल्य में 112 डॉलर प्रति टन तक की कटौती की है। विशेषज्ञों का कहना है कि इससे खाद्य तेल की घरेलू कीमतों में और कमी आ सकती हैं।

केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीआईसी) ने एक अधिसूचना जारी कर कच्चे पाम तेल के आयात पर शुल्क मूल्य में 86 डॉलर प्रति टन और आरबीडी (रिफाइंड, ब्लीच्ड एंड डियोडराइज्ड) एवं कच्चे पामोलिन के आयात पर शुल्क मूल्य में 112 डॉलर प्रति टन की कटौती की गई है

isha

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles

× How can I help you?