मुंबई-पुणे डेक्कन एक्सप्रेस दि- 26 से चलेगी, पहली बार शीशे की छत और हर तरफ घूमने वाली सीटें, रेलवे के नए विस्‍टाडोम कोच में बैठकर आप भी कहेंगे वाह !

अब मुंबई-पुणे मार्ग पर यात्री नदी, घाटी, झरने आदि दृश्यों का आनंद ले सकेगे.


मुंबई- रेलवे ने मुंबई-पुणे डेक्कन एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन की सेवाएं दिनांक 26.06.2021 से बहाल करने का निर्णय लिया है। इस रूट पर यह ट्रेन पहली बार विस्टाडोम कोच के साथ चलेगी।
मुंबई-गोवा मार्ग में विस्टाडोम कोच में यात्रा करते समय पश्चिमी घाट के मनोहारी दृश्यों का आनंद अब मुंबई-पुणे मार्ग पर भी उठाया जा सकता हैं। फिलहाल मुंबई-मडगांव जन शताब्दी स्पेशल ट्रेन में विस्टाडोम कोच चल रहा है। अब, मुंबई-पुणे मार्ग पर यात्री माथेरान पहाड़ी (नेरल के पास), सोनगिर पहाड़ी (पलसधरी के पास), उल्हास नदी (जाम्ब्रुंग के पास), उल्हास घाटी, खंडाला एवं लोनावला, आदि और दक्षिण पूर्व घाट खंड पर झरने, सुरंगें क्षेत्रों के पास से गुजरते हुए मनोहारी प्राकृतिक सुंदरता और प्रकृति को नज़दीक से देखने  का आनंद ले सकते हैं।  इस विस्टाडोम कोच के विशेष आकर्षण में चौड़ी खिड़की के शीशे और कांच की छत, घूमने योग्य सीटें और पुशबैक कुर्सियाँ आदि शामिल हैं।

01007 डेक्कन एक्सप्रेस स्पेशल दिनांक 26.06.2021 से छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस से प्रतिदिन 07.00 बजे रवाना होगी और उसी दिन 11.05 बजे पुणे पहुंचेगी।
01008 डेक्कन एक्सप्रेस स्पेशल दिनांक 26.06.2021 से पुणे से प्रतिदिन 15.15 बजे रवाना होगी और उसी दिन 19.05 बजे छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस पहुंचेगी।

हॉल्ट: दादर, ठाणे, कल्याण, नेरल (केवल 01007 के लिए) लोनावला, तलेगांव, खड़की और शिवाजी नगर।
संरचना: – एक विस्टाडोम कोच, तीन एसी चेयर कार, 10 सेकंड क्लास सीटिंग और एक सेकेंड क्लास सीटिंग सह गार्ड ब्रेक वैन।

आरक्षण: स्पेशल ट्रेन  01007/01008 के लिए  बुकिंग सामान्य शुल्क पर दिनांक 24.06.2021 को सभी पीआरएस केंद्रों और वेबसाइट www.irctc.co.in पर आरंभ होगा। केवल कन्फर्म टिकट वाले यात्रियों को ही इस विशेष ट्रेन में सवार होने की अनुमति है.

चेन्‍नई में बने है ये नए कोच

ये सभी कोच तकनीकी रूप से काफी एडवांस हैं। इनमें वाई-फाई आधारित पैसेंजर इंफॉर्मेशन सिस्टम भी है। इन कोच में बहुत अधिक शीशे का इस्तेमाल किया गया है, इसलिए इसके शीशों को टूट-फूट और स्क्रैच आदि से बचाने के लिए ग्लास शीट लगाई गई है। यह कोच चेन्‍नई की इंटीग्रल कोच फैक्‍ट्री में बने हैं। नए डिजाइन वाले विस्‍टाडोम टूरिस्ट कोच का 180 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड पर ट्रायल पूरा हो गया है। जिन ट्रेनों में ये कोच लगेंगे, वे खासतौर पर टूरिज्म के लिए होंगी। मिली जानकारी के अनुसार, इस कोच वाली ट्रेन दादर, मडगांव, अराकु घाटी, कश्मीर घाटी, डार्जिलिंग हिमालयन रेलवे, कालका शिमला रेलवे, कांगडा घाटी रेलवे, माथेरान हिल रेलवे, नीलगिरी माउंटेन रेलवे में चलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here