महाराष्ट्र अनलॉक: ठाकरे सरकार की ‘ओपनिंग अप’; चरणबद्ध तरीके से हटाएंगे राज्य में पाबंदियां, जानें क्या होगी शुरुआत?

 

मुंबई: महाराष्ट्र में कोरोना की पृष्ठभूमि में सख्त पाबंदियां लगाई गई हैं. लेकिन लोगों की ओर से प्रतिबंधों में ढील देने की मांग की जा रही थी. इसलिए महाराष्ट्र में अगले सप्ताह से चरणों में पाबंदियों में ढील दी जाएगी। इस संबंध में मुख्यमंत्रीउद्धव ठाकरे(सीएम उद्धव ठाकरे) ने रिपोर्ट पेश की। टास्क फोर्स के सदस्य इसी सप्ताह मुख्यमंत्री से मुलाकात करेंगे। सूत्रों ने कहा कि रिपोर्ट पर चर्चा की जाएगी और निर्णय लिया जाएगा। मुंबई लोकल को अनलॉक फेज में लॉन्च करने पर तुरंत कोई फैसला नहीं लिया जाएगा। इसलिए हमें लोकल सर्विस के लिए कुछ और समय इंतजार करना होगा।

कैसा होगा पूरा अनलोक  ?

सभी प्रतिष्ठानों को चरणों में पूरी तरह से शुरू किया जाएगा. टीकाकरण पूरा करने वालों को वरीयता दी जाये गी

होटल और रेस्टोरेंट को रात 10 बजे तक जारी रखने की अनुमति होगी

दुकानों के सभी कर्मचारियों को टीकाकरण की आवश्यकता होगी. आम जनता के लिए स्थानीय यात्रा का निर्णय अभी नहीं लिया गया है

राज्य सरकार अब दूसरी लहर के बाद फिर से पूरी तरह अनलॉक की प्रक्रिया शुरू करेगी । राज्य सरकार ने कोरोना की दूसरी लहर को ब्रेक द चेन कहा था। अब राज्य सरकार ओपनिंग अप’ के नारे के साथ प्रतिबंध हटाने की तैयारी कर रही है. किन प्रतिबंधों को हटाया जाना चाहिए? किन प्रतिबंधों में ढील दी जानी चाहिए? ऑफिस में कितने कर्मचारी होने चाहिए? टास्क फोर्स की रिपोर्ट मुख्यमंत्री को दी गई है जिस का निर्णय २ दिन में आ येगा।

मुख्यमंत्री और टास्क फोर्स के सदस्यों की बैठक होगी। इस बैठक में ‘खोलने’ पर फैसला लिया जायेगा। पहले चरण में दुकानें, होटल, रेस्टोरेंट और ऑफिस खोल ने की योजना है। टीकाकरण पूरा कर चुके लोगों को भी ‘ओपन अप’ में प्राथमिकता दी जाएगी। इस पर फिलहाल विचार किया जा रहा है। इस पर अंतिम फैसला मुख्यमंत्री के साथ बैठक में लंबित है। बताया गया है कि इसके बाद राज्य में पाबंदियों को चरणबद्ध तरीके से हटाया जाएगा। हालांकि पता चला है कि आम जनता जिस स्थानीय यात्रा की उम्मीद कर रही है, उसे लेकर तत्काल कोई फैसला नहीं लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here